धर्म, विज्ञान और प्रकृति 

हर चीज़ का अपना डोमेन होता है और जब यह अपने डोमेन से बाहर जा कर अनावश्यक रूप से सक्रिय और उत्तेजित अवस्था में रहे तो नुकसान की सम्भावना अधिक होती है। विज्ञान का भी अपना डोमेन है। बस एक बात जानना चाहता हूँ कि हम मनुष्य कितना विज्ञान जानते हैं। जो विज्ञान हमने जाना है वो अपने लिए जाना है। प्रकृति में सारी भौतिकीय घटनाएं हमारे अस्तित्त्व के पहले से विद्यमान हैं। और जो 99.99 प्रतिशत हम अभी तक नहीं जानते उसका क्या?जब न्यूटन ने विभिन्न नियमों का प्रतिपादन किया तब, क्या वो सभी भौतिकीय घटनाएं उसके बाद प्रकृति में प्रगट हुईं। गुरुत्त्वाकर्षण बल, न्यूटन के पहले विद्यमान था ही नहीं क्या या जड़ता विद्यमान नहीं थी। जिस तरह धर्म

Read more