सुपरस्टार

सीन गरमागरम था जाहिर है, गीत के बोल भी उत्तेजक थे धुन भी उसी के अनुरूप मादक और नशीली. बॉलीवुड के सुपरस्टार रौशन कुमार बारिश से अपादमस्तक भीगी हीरोइन की अनावृत्त कमर और गीली साड़ी में उभरे नितंब के बीच अपनी दोनों हथेलियों को टिकाए अपना चेहरा उसकी नाभि से रगड़ते हुए ऊपर की ओर ले जा रहा था. क्लोजअप में हीरोइन के लरजते होंठ दिखने लगे सुपरस्टार के फड़कते होंठ उससे जा मिले. इधर बारिश की फुहार, उधर चुंबनों की बौछार.
फिल्म के प्रीमियर शो में रौशन कुमार की पत्नी और बॉलीवुड की ही प्रख्यात अभिनेत्री जयमाला भी मौजूद थीं. हॉट सीन उनकी आंखों में चुभ रहे थे. चेहरे पर किस्मकिस्म के भावों की आवाजाही जारी थी. फिल्म की कहानी विवाहेत्तर संबंधों को जस्टिफाई कर रही थी…
जयमाल ने सहज और संयत होकर स्वयं को समझाया, “अरे यह तो फिल्म है. रील लाइफ..दोनों अपने अपने किरदार को जी रहे हैं. बदलते जमाने में ऐसे सींस तो कॉमन हैं. नाहक ही अनकम्फर्ट और जेलेस फील कर रही हूँ.” प्रीमियर शो खत्म होने के बाद सुपरस्टार रौशन कुमार का दामन मुबारकबाद से लबरेज हो गया. फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े तजुर्बोकार ट्रेड पंडितों ने इस फिल्म को सुपरहिट होने की गारंटी दे दी थी. रौशन कुमार बेहद खुश था. एक और कामयाबी उसके कदम चूमने वाली थी.
‘डार्लिग कैसी लगी मूवी ?” अपने आलीशान बंगले के लग्जरी बेडरूम में पत्नी को आगोश में लेते हुए रील लाइफ के सीन को रीयल लाइफ में बदलने के क्रम में मादक अंदाज में फुसफुसाया.
‘सुपरब.! आई प्राउड ऑफ यू डार्लिग! .आई लव यू. लव मी.लव मी!’. उखड़ती सांसों और लड़खड़ाती जुबान के साथ वह रील लाइफ के सीन को जीवंत करने में उसका साथ देने लगी.
ज्वार शांत हुआ. उसने सिगरेट सुलगाई. पहला कश लेकर धुएं के छल्ले छोड़ते हुए कहा “यू नो डार्लिग कल तुम्हारी मूवी देखी. क्या नाम था ?.हां याद आया “औरत तेरी यही कहानी”.
वह चहक उठी, “रियली ?.कैसी लगी ?”
“वो ब्लडी संजीव कुमार के साथ तुम्हारा हॉट सीन ?”
“सो व्हाट ?” वह उठकर बैठ गई . उसके चेहरे को गौर से निहारने लगी. चेहरा रंग बदल रहा था. रौशन कुमार कुछ पल खामोश रहा. सिगरेट का एक लंबा कश लेने के बाद अपनी आवाज को संयत करने की असफल कोशिश करते हुए बुदबुदाया, “डॉन्ट फॉरगेट डार्लिग , यू आर मैरिड एंड एक बच्चे की मां भी हो ?” उसने गौर किया सुपरस्टार का चेहरा क्षतविक्षत हो गया था. वहां एक आदिम चेहरा आहिस्ता-आहिस्ता चस्पां हो रहा था
(मार्टिन जॉन द्वारा लिखित.)

Share this...
Share on Facebook
Facebook

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *